कोरोना से बचाव में AI तकनीक की जंग

0
59
corona se bachav
corona se bachav

कोरोना से बचाव में AI तकनीक की जंग बहुत ही निर्णायक भूमिका में है. आज दुनिया के लगभग सभी देश कोरोना महामारी से पीड़ित हैं. उन सभी देशों के सामने कोरोना महामारी से बचाव करने की जंग की चुनौती है. लेकिन इस जंग में निर्णायक भूमिका निभा रही है AI (आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस) तकनीक.

इस महामारी पर नियंत्रण के लिए कई देश आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का सहारा ले रहे हैं. भारत में भी आरोग्य सेतु एप का इस्तेमाल इस महामारी से लड़ने में बखूबी किया जा रहा है. हमारे देश का स्वदेशी एप आरोग्य सेतु AI तकनीक का इस्तेमाल कर इस महामारी से लड़ने में बहुत मदद कर रहा है. यह एप संक्रमितों की निगरानी करने में मदद करता है. और साथ ही साथ ऐसे लोगों पर भी नजर रखता है जो उन संक्रमितों के संपर्क में आये हैं.

इसके आलावा और भी देशों में इस तकनीक का इस्तेमाल हो रहा है. सयुक्त अरब अमीरात ने अलहोसन नाम का एप विकसित किया है. यह एप आरोग्य सेतु की तरह संक्रमितों की सूचना रखता है. जिसने प्रभावी रूप से इस बीमारी पर नियंत्रण का कार्य किया है.

दुबई में फेडरल सुप्रीम काउंसिल द्वारा दुबई पुलिस को ऐसे खास हेलमेट से लैश किया है. जो बहुत ही खास हैं. ये हेलमेट आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस तकनीक रडार के संपर्क पर आधारित हैं. हेलमेट पहने हुए पुलिस हुए पुलिस जवान के पास से जब कोई गुजरता हैं.

तो यह उसके तापमान और उसकी गाड़ी के नंबर प्लेट की जानकारी देता है.

ये भी पढ़ें- आपके मोबाइल में कोई भी सेंध नहीं लगा सकता आपको बस ये करना है

Facebook का वैक्सीन फाइंडर टूल

फेसबुक ने भारत में एक नई पहल शुरू की है. उसने भारत सरकार के साथ मिलकर एक साझेदारी की है. जो टीकाकरण के अभियान में बहुत ही काम की होने वाली है.

Facebook ने भारत में अपने एप पर vaccine finder (वैक्सीन फाइंडर) एप को रोल आउट करने के लिए सरकार के साथ साझेदारी की है. यह लोगों को बहुत मदद करेगा उनके आस-पास के टीकाकरण केन्द्रों (vaccine centre) की पहचान करने में.

इसमें एक covid-19 सूचना केंद्र होगा. जिसमें कोरोना से बचाव के उपाय के साथ यह जानकारी भी होगी. कि हलके covid-19 लक्षण होने पर कैसे प्रबंधन करें. और आपातकालीन देखभाल कैसे करें.

ये भी पढ़ें- अगर आपको नहीं मालूम आपके नाम पर कितने सिम चल रहे हैं तो ऐसे पता करें

कोरोना से बचाव
कोरोना से बचाव

AI तकनीक का उपयोग  

AI तकनीक के उपयोग की कोरोना से बचाव में शुरुआत तो हो ही चुकी है. अब इसमें बस नई-नई चीजें और जुड़ती जा रही हैं. नई-नई खोजें के साथ नए-नए प्रयोग शुरू हो गए हैं. जिनके रिजल्ट भी दिखने लगे हैं.

इन्द्रप्रस्थ इंस्टिट्यूट ऑफ़ इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी (IIIT) ने भी एक AI (आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस ) मॉडल विकसित किया है. जो covid-19 के खिलाफ की पूरी प्रक्रिया को मैनुअली करने की बजाय. इस बात पर जोर देता है कि बीमारी के खिलाफ जो दावा यूज़ करनी है. उनकी सफलता की अधिकतम संभावना हो.

AI द्वारा कुशल निगरनी के लिए स्मार्ट उपकरणों का भी उपयोग किया जा सकता है. जैसे- घड़ी, मोबाइल, कैमरा आदि.

ये भी पढ़ें- जानें कोरोना वायरस कैसे असर करता है और कैसे इससे बचाती है वैक्सीन 

Conclusion  

तो दोस्तों आपको आज की हमारी ये पोस्ट कोरोना से बचाव में AI तकनीक की जंग कैसी लगी. हमारी यही कोशिश रहती है कि आप तक कोरोना से बचाव की सही जानकारी पहुंचाई जाय. अगर आपका कोई सुझाव हो या आपको हमारी ये पोस्ट कैसी लगी हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करके जरुर बताएं.

अगर आप चाहते हैं. कि इस जानलेवा बीमारी से सम्बंधित हर जानकारी सभी लोगों तक पहुंचनी चाहिए. तो इस पोस्ट को नीचे दिए सोशल मीडिया लिंक जैसे Facebook, WhatsApp पर क्लिक करके शेयर जरुर करें.

……धन्यवाद

……शेयर जरुर करें पुण्य मिलेगा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here